Skip to content

आरोग्य सेतु ऐप क्या है और डाउनलोड कैसे करे?

आरोग्य सेतु ऐप क्या है, डाउनलोड कैसे करे, फीचर्स क्या है , आरोग्य सेतु ऐप में ट्रैकिंग कैसे करते है | Aarogya Setu App Kya Hai , Download Kaise Kare जाने पुरे जानकारी हिन्दीमे

आप में से कई लोगो के स्मार्टफोन्स में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड होगा ही। आज पूरे देश और दुनिया में कोरोना वायरस इतनी तेजी से फैल रहा है जो कि एक महामारी का रूप ले चुकी है। पूरे विश्व के लाखों लोग इसकी चपेट में आके अपनी जान गवा बैठे हैं। 

हालांकि वैक्सीन लेने के बाद इस महामारी का केहर काफी हद तक कम हुआ है। इसी को देखते हुए राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र ने एक covid-19 ट्रैकिंग मोबाइल एप्लिकेशन बनाया, जिसका नाम है”आरोग्य सेतु ऐप,”। तो चलिए जानते है विस्तार में कि “आरोग्य सेतु ऐप क्या है?” 

Aarogya Setu App

आरोग्य सेतु ऐप क्या है? Aarogya Setu App Kya Hai

आरोग्य सेतु ऐप भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय के अंतर्गत आता है और इसका उद्देश्य कोरोना वायरस के बारे मे जागरूकता फैलाना और आवश्यक स्वास्थ्य सेवाओं को भारतवासियों तक पहुँचाना है। 

इसका नाम आरोग्य सेतु ऐप इसलिए रखा गया ताकि हम भारतीय अपनी जागरूकता के कारण जल्दी ही रोग मुक्त हो सके। यह ऐप जनता को कोरोना वायरस के खतरे और जोखिम को समझाने में मदद करती है। 

आगे हम इस लेख में जानेंगे कि आरोग्य सेतु ऐप कैसे डाउनलोड कर सकते हैं और आरोग्य सेतु ऐप का उपयोग किस तरह करना है। 

आरोग्य सेतु ऐप को कैसे डाउनलोड करें?

दोस्तों Aarogya Setu App को डाउनलोड करने के लिए Android phone या i Phone अर्थात स्मार्टफोन चाहिये ,ये दोनों पर ही उपलब्ध है। 

इस ऐप को play store के द्वारा डाउनलोड किया जा सकता है। 

  • जब आप आरोग्य सेतु नाम play store  में  सर्च बार मे टाइप करेंगे तो आप देखेंगे एक नारंगी रंग का दिल और नीचे हरे रंग का टिक का निशान है, ये ही है  आरोग्य सेतु ऐप का आइकन,इसी को आपको  अपने स्मार्ट फोन पर डाउनलोड करना है। Direct Link
  • आरोग्य सेतु इंग्लिश हिन्दी सहित हमारे देश के 11 भाषाओं (हिंदी, अंग्रेजी, मराठी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़, मलयालम, पंजाबी, बंगाली, उड़िया, गुजराती, असमिया) में उपलब्ध है। 
  • ऐप को इंस्टॉल करने के बाद इसको ओपन करें फिर अपने पसन्द की भाषा को चुने। 
  • अब उसमे लिखे इनफॉरमेशन पेज को पढ़ कर “Register Now” बटन को touch करें। 
  • इस प्रोसेस को करने के लिए आपको Bluetooth और gps डेटा की जरूरत पड़ेगी।
  • मोबाइल के ब्लू टूथ, स्थान और मोबाइल नम्बर से ही इसे एक्टीवेट किया जा सकता है इसलिए आपको अपना मोबाइल नंबर और मांगी हुई जानकारी देकर इस ऐप को एक्टीवेट करना होगा।

आरोग्य सेतु ऐप के फीचर्स क्या है?

  • आरोग्य सेतु कॉनटेक्ट ट्रेसिंग करने के लिए आपके मोबाइल नम्बर, ब्लू टूथ तथा लोकेशन डेटा का प्रयोग करता है। 
  • आपको यहां पर अपना मोबाइल नंबर देना होगा और ऐप में मांगी गई सभी जानकारी देनी होगी ।
  • इसके साथ ही आपको ये बताता है कि आप अभी सेफ हैं या कोरोना के दायरे के जोखिम में हैं। 
  • आरोग्य सेतु ऐप में जितनी भी जानकारी आप देंगे सभी जानकारी सरकार के पास पहुंचाई जाएगी ताकि अगर आप covid पॉज़िटिव निकले  तो आपको मदद कि जा सके।
  • जब आप अपनी सभी जानकारी एप्लीकेशन में सेव कर देते हैं तो सरकार के पास जो डेटाबेस मौजूद होता है उसके हिसाब से यह ऐप आपको बता देता है कि आप कोरोना संक्रमित हैं या नही और आप कोरोना वायरस की कौन सी स्टेज पर हैं।
  • यह ऐप आपको अपने पास के संक्रमित व्यक्ति की भी इंफॉर्मेशन देता है ।

Aarogya Setu App में ट्रैकिंग कैसे करते है?

 ये ऐप कुछ रंग शो करके बताता है कि हम खतरे में है या सेफ है।

  • रेड कोड(Red code) 

आरोग्य सेतु ऐप में अगर ट्रैकिंग लाल रंग की आती है तो कोरोना वायरस संक्रमित है । लाल रंग का कोड आने पर आप अपने नजदीकी सरकारी अस्पताल में शीघ्र संपर्क करें या फिर आप कोरोना वायरस टोल फ्री नंबर 1075 पर संपर्क कर सकते हैं । 

  •  येलो कोड (Yellow code) 

आरोग्य सेतु ऐप में यदि ट्रैकिंग पीले रंग की है तो इसका मतलब यह है कि आप हाल ही में कोरोना संक्रमित व्यक्ति के कॉन्टैक्ट में आए हैं और आप कोरोनावायरस से थोड़ा सा संक्रमित हैं ।

ऐसी स्थिति में आप खुद को अपने घर में Self-Quarantine कर सकते हैं।घर के बुजुर्ग और बच्चों से दूरी बनाकर रखना चाहिए  और यदि जरूरत पड़े तो पास के सरकारी अस्पताल या कोरोनावायरस हेल्पलाइन नंबर 1075 पर संपर्क कर सकते हैं। 

ग्रीन कोड (Green code) 

 यदि हरे रंग का कोड आपको दिखाई देता है तो इसका मतलब आप अब तक कोरोना वायरस के संपर्क में नहीं आए हैं और आप सेफ है।

आरोग्य सेतु ऐप के बारे में पूछे गए प्रश्न-

Q.क्या आरोग्य सेतु ऐप को एंड्राइड  यूजर इस्तेमाल कर सकते है? 

जी हाँ, एंड्राइड फोन यूजर भी आरोग्य सेतु ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कर के इस्तेमाल कर सकते है।

Q.आरोग्य सेतु ऐप में लाल रंग के निशान से क्या पता चलता है ?

आरोग्य सेतु ऐप में अगर ट्रैकिंग लाल रंग की दिखाई देती है तो इसका मतलब ये है कि आप कोरोना वायरस से संक्रमित है। 

Q.आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड करने के बाद ये कौन कौन से डेटा हमसे कलेक्ट  करता है?

आरोग्य सेतु ऐप हमारा फोन  नंबर , नाम, सेक्स, प्रोफ़ेशन  और पिछले एक महीने में कौन कौन से देश हम गए है,ये सब डेटा कलेक्ट करता है ।

Q क्या आरोग्य सेतु ऐप मेरी लोकेशन का डेटा लगातार कलेक्ट करता रहता है?

जी हां,ये ऐप लगातार अपके लोकेशन का डेटा कलेक्ट करता रहता है और अपके मोबाइल डिवाइस में हर 15मिनट के अंतराल में डेटा स्टोर करके रखता है।

Q. अगर मैं कोविड पॉज़िटिव पाया गया तो सरकार कैसे मेरे मोबाइल से कलेक्ट की हुए जानकारियों को यूज करेगी?

अपके कोविड पॉज़िटिव होने से सरकार अपके मोबाइल से मिली इंफॉर्मेशन की हेल्प से ये देखेंगे की पिछले 14-15 दिन आप कहां कहां गए थे और किन जगहों को सनेटाइज करना ज़रूरी रहेगा जिससे और संक्रमण ना फैले।

Conclusion

आरोग्य सेतु ऐप आपको कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की जानकारी तभी देगा जब  कोरोना वायरस संक्रमित मरीज खुद आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल करें और अपने फोन में ब्लूटूथ और GPS को ऑन रखें।

अगर आपने इस ऐप को डाउनलोड नहीं किया है और आप किसी कोरोना वायरस संक्रमित मरीज  के संपर्क में आए है तो आपको उसकी जानकारी नहीं मिल पाएगी।

इसलिए अपनी और दूसरों की सुरक्षा के लिए आरोग्य सेतु ऐप को इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है।

nv-author-image

Priyanka Sachan

यह उत्तर प्रदेश, कानपूर के रहने वाली है। इन्होने एम्.बी.ए किया हुआ है। पेशे से यह एक गृहणी है साथ ही साथ लिखने में भी इन्हें बहुत रूचि है।ये शिक्षा, पैसे कमाए,टेक्नोलॉजी पर आधारित आर्टिकल लिखती है। Follow Her On Facebook - Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published.