DM Full Form(DM कौन होता हैं जाने पुरे बातें )

DM full form, Dm kya hai, Dm Kaise bane | आजके इस लेख में DM से जुड़ी हर एक बाते जाननेवाला हूँ |

DM Full Form

दोस्तों , अगर सिर्फ आप DM के full form जानने आये हो तो 2nd pragraph पर मिल जायेगा | लेकिन दोस्तों आपसे निवेदन हैं कि पोस्ट पर आये हो तो पूरा पोस्ट को पड़े , DM के पुरे जानकारी लेकर जाए ,ताकि आपको कही अंन्य जगह पर इसके बारे में पूछना न पड़े |

DM Full Form(DM के पुरे नाम )

DM Full-Form हैं “District Magistrate” |जिसे हिंदी में जिला अधिकारी के नाम से जाना जाता हैं |District Magistrate एक जिले के अन्दर सबसे उच्च स्थर के पद होते हैं , जिनके काम होते हैं जिला में कानून व्यवस्ता को बनाये रखना |

District Magistrate बनने के सपने हर students ही देखते हैं लेकिन एक जिला अधिकारी बनने के लिए पहले एक IAS ऑफिसर बनना अनिवार्य हैं |

District Magistrate जिसे जिला के मुखिया भी कहा जाता हैं | यह पद पाने के लिए लाखो के तादात में उम्मीदवार संघर्ष करते हैं |

अगर आप भी जिला अधिकारी बनने की चाहत रखते हैं और आपको DM के ऊपर कुछ खाश knowledge नही हैं तो पोस्ट को अंतिम तक ध्यान से पड़े क्युकी इस पोस्ट में हम District Magistrate कौन होता हैं , कैसे बनता हैं हार एक बाते को जानेंगे |

CDPO Full Form(सीडीपीओ ऑफिसर कैसे बने )

DM कौन होता हैं और काम क्या करते हैं

DM यानि District Magistrate जिले केMukhya Nyaidish होते हैं | जिले अधिकारी के जिला के मुखिया भी कहा जाता हैं | जिला के हार के काम मुखिया के आदेश बिना नहीं होता |

एक DM एक भारतीय प्रशासनिक सेवा यानी Indian Administrative Service (IAS) अधिकारी है जो जिले के अन्दर सामान्य प्रशासन का सबसे वरिष्ठ कार्यकारी मजिस्ट्रेट और प्रमुख हैं।

District Magistrate की निर्माण साल 1997 में warnenhasting ने किया था | जिले के भितर सबसे उच्च और संमनियो पद होते हैं DM |

एक District Magistrate के पास बहुत तरह के power या अधिकार होते हैं | किसी जगह पर छानं-बिन करना ,जेल की देखवल तथा जरुरत पड़ने पर नए जेल निर्माण के आदेश देना , जिले के अन्दर काननों व्यवस्ता को बनांये रखना , जिले में शांति-सृखला बनाये रखना , जिले के सरकारी कर्मचरियो पर नजर रखना , जिले में हो रहे अपराध के हिचाप रखना के काम न्यादिश के अन्दर आते हैं |

इतना ही नही ,प्राकृतिक दुर्जुग जैसे बान , भूमिकंप या अन्न संकटों से निपटने तथा जरूरती हेल्प प्रदान करने में टीम के निर्माण करते हैं | एक जिला मुखिया होने के नाते ओर भी कोई तरह के काम रहते हैं |

District Magistrate कैसे बने (How to Became a District Magistrate )

एक जिले के मुखिया होते हैं District Magistrate | जिले के कानून व्यवस्ता से लेकर जिले के हर अच्छे बुरे बातो को परखना DM के काम होते हैं | यह एक एइसा पद हैं जिसे जिले में सबसे ऊपर के स्थर दिए गए हैं | जिले में हुयी सरकारी-वेचारकारी हर एक काम के लिए DM की permission अनिवार्य हैं |

अब बात करते हैं DM कैसे बनते हैं | DM बनने के लिए किया करना होता हैं |

एक DM पद को डायरेक्ट नियुक्त नहीं किया जाता हैं | एक DM को पहले IAS ऑफिसर के तोर पर 2 3 साल काम करना पड़ता हैं और बाद में प्रमोशन के आधार पर District Magistrate नियुक्त हो सकते हैं |

District Magistrate बंनने के लिए पहले IAS ऑफिसर बनना जरुरी हैं | IAS बनने के लिए UPSC द्वारा नियुक्त किये जाने वाले CSE परीक्षा को clear करना पड़ेगा |

आईये थोडा UPSC(CSE) परीक्षा के ऊपर बात कर लेते हैं |CSE परीक्षा को 3 स्टेप में आयोजित किया जाता हैं |

  • Pre-Preliminary Exam (प्रारंभिक परीक्षा)
  • Mains Exam(मुख्य परीक्षा )
  • Interview (साक्षात्कार)

इन 3 स्टेप के बारे में निचे डिटेल्स में दिया गया हैं , पोस्ट को ध्यान से पड़े |

Step #1: Pre-Preliminary Exam

CSE परीक्षा में पहला स्टेप प्रारंभिक परीक्षा का होता हैं | प्रारंभिक परीक्षा पर General Studies और C -SET के 2 paper होता हैं |पहले paper में 200 नंबर की 100 प्रश्न होते हैं और paper को पूरा करने के लिए समय सीमा होते हैं 2 घंटे | दुसरे paper 80 प्रश्न की 200 नंबर की होती हैं | ध्यान देने की बात ये हैं कि दुसरे paper में negative marking भी रहते हैं |

Pre-Preliminary Exam को अच्छे Cut -off से clear करने के बाद mains एग्जाम के लिए बुलाया जाता हैं |

Step #2: Mains Exam

पहला स्टेप clear करने के बाद mains exam के लिए call किया जाता हैं |जहा पर 9 paper की exam लिया जाते हैं | लेकिन इनमे से 7 paper के आधार पर ही cut -off बनाया जाता हैं और 2 paper में सिर्फ पास करने से ही होते हैं |

Mains Exam के बिषय सूचि कुछ इस प्रकार के होते हैं –

  • Language Paper – 02
  • General Studies – 04
  • Essay – 01
  • Optional Paper – 02

Mains Exam को अच्छे cut -off से clear करने पर interview के लिया बुलाया जाता हैं |

Step #3: Interview-

Interview process अव्यर्थियो के लिए बहुत ही गुरुत्वपूर्ण होते हैं | क्युकी ये final स्टेप होते हैं और इसके बाद IAS ऑफिसर घोषित किये जाते हैं | Interview में वही subject के ऊपर प्रश्न पूछे जाते हैं जो कि mains exam में होते हैं | साथ ही साथ आपके ग्रेजुएशन के बिषय , रूचि के ऊपर भी प्रश्न पूछे जा सकते हैं |

यह Interview को clear करने के बाद आपको IAS के रूप में नियोजित किया जाते हैं और training के लिए भेज दिया जाते हैं |

2 -3 साल आईएस ऑफिसर के पद पर काम करने के बाद promotion के आधार पर District Magistrate नियुक्त किया जाता हैं |

तो ऊपर आपने पड़ा IAS कैसे बनते हैं , CSE exam किस प्रकार से लिया जाते हैं | आप बात करते हैं UPSC exam फॉर्म भरने लिए क्या शिक्षिक युग्यता होने चाहिए और आयुसीमा क्या होने चाहिए |

Education Qualification

लेख को पडके ये बात तो समझ ही गए होंगे DM के पद कितने उच्चे स्तर के होते हैं | अब बात करते हैं CSE exam देने में क्या Education Qualification होना जरुरी हैं |

IAS परीक्षा के फॉर्म भरने के लिए उम्मेदवारों को graduation पास होनी चाहिए any stream में |Graduation चाहे जितनी भी % हो उम्मेदवारों exam के लिए apply कर सकते हैं |

Age Limit :

इन्टरनेट पर जितनी पोस्ट DM के ऊपर हैं सबमे आयु सीमा के ऊपर अच्छे से बताया नही गए हैं |हमने बहुत अच्छे से आयु सीमा के बारे में बतया हूँ |

CSE exam में appear होने के लिए general candidates के age 21 से 32 वर्ष होनी जरुरी हैं | अगर अन्न category के बात करे तो उनमे सरकारी नियम अनुसार थोडा relaxtation दिया गया हैं | OBC candidates के age लिमिट 21 से 35 हैं और SC/ST के 21 से 37 तक हैं |

Exam attempt की बात करे तो general category candidates 6 बार attempt दे सकते हैं 32 वर्ष तक |Obc candidates 9 बार exam में attempt कर सकते हैं 35 age तक | और Sc / St ullimited time attempt कर सकते हैं over age न होने तक |

Salary :

DM एक बहुत ही संमानियो पद होते हैं | जिले के मुखिया होने के नाते भरपूर सन्मान के साथ एक अच्छे सैलरी भी दिया जाते हैं | एक जिला अधिकारी की मासिक वेतन 75,000 से लेकर 1,50,000 के बिच होते हैं , यह निर्भर करते हैं सर्विस age के ऊपर | एक अच्छे सैलरी के साथ साथ बहुत तरह के अन्न सुविधा भी दिया जाता हैं | जैसे कि सरकारी घर , सरकारी गाड़ी , गार्ड आदि कि सुविधा भी पाप्त होता हैं DM को |

DM banne ki Tayari kaise kare

DM जिला के उच्च स्तर के पद होते हैं | इस पद को हासिल करने का students की सपना होता हैं | अगर आप भी DM बनने की इच्छा रखते हो इसके लिए अभी से मेहनत करना शुरू कर दो |

  • अपने general knowlege को बड़ाना होगा | इसके लिए कोई तरह के बुक पड़े , न्यूज़ paper पड़े |
  • Current affairs को जानना जरुरी हैं |
  • कानून की जानकारी होना अनिवार्य हैं | इसके लिए low के किताव पड़ सकते हो |
  • अगले exam के paper को देखे | उससे अनुमान लगाने की try करे |

तो ऊपर अपने देखा DM full form , DM कौन होते हैं , DM kaise बने | अगर आपको पोस्ट को लेकर कोई भी सुझाब हैं तो कमेंट पर अपना राय बताये |

उम्मीद हैं दोस्तों पोस्टपड़कर आपको कुछ शिखने को मिला होगा | अगर पोस्ट अच्छा लगा तो अपने दोस्तों से पोस्ट को जरुर शेयर करे |

दर्शक द्वारा पूछे जानेवाले कुछ प्रश्न

Q:What is the Full form of DM ?

Ans: The Full form of DM is District Magistrate .

Q :What is DM in medical term?

Ans : Diabetes mellitus

Q: Another full form of DM in Chat?

Ans: Personal Message.

Leave a Comment