On Page Seo Kya Hai?[10 technique for 2021]

On Page Seo Kya Hai?[10 technique for 2021]

ब्लॉगिंग से पैसे कमाना चाहते हो? तो यह लेख पड़े। क्योंकि ब्लॉगिंग से पैसे तभी कमा पाओगे जब आप ब्लॉग को सर्च रिजल्ट के top पर रैंक करा पाओगे। आज इस पोस्ट में हम on page seo kya hai इसी के ऊपर बात करेंगें।

हमनें पिछले पोस्ट में seo के ऊपर चर्चा किया था। Seo यानी कुछ ऐसे technique जिसे follow कर आपने ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन के टॉप पर रैंक कराया जा सकता है। seo kya hai और कैसे करे

खास करके ब्लॉग पोस्ट में seo 2 तरीके से किया जा सकता है।

  • ब्लॉग  के भीतर से(On page seo)
  • ब्लॉग पोस्ट के बाहर से(Off Page Seo) 

पिछले पोस्ट में हमने off page seo को समझाया हूँ और off पेज के technique के बारे में भी बताया हूँ । यह पोस्ट जरूर पड़े-Off Page Seo कैसे करे  

पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना चाहूँगा कि seo एक lazy process होते है। 

आप इन process को फॉलो कर एक या दो दिन में आपने वेबसाइटों को रैंक नही करवा पाओगें। इसके लिए आपको धैर्य रखना जरूरी है। 

अगर आप on page seo के मद्त से पोस्ट को गूगल सर्च रिजल्ट के top पेजेज में रैंक करना चाहते हो तो पोस्ट को ध्यान से पड़ते रहे।

तो चलिए जानते है on page seo kya hai और on page seo के techniique के बारे में।

On Page Seo Kya hai(What is on page Seo in hindi)

On page seo kya hai जानने से पहले seo के परिभाषा समझना जरूरी है। 

Seo उन technique को कहा जाता है जिसके मदत से सर्च इंजन पर ब्लॉग पोस्ट या पेज को better रैंक करा जाते है। 

Seo के पूरा नाम है search engine optimization यानी कि पोस्ट को सर्च इंजन के according optimization करने को ही Seo कह सकते है।

Seo Technique के प्रयोग दो तरीके से किया जाता है। 

  • On Page – Inside of Page
  • Off Page – Out side of Page

On Page Seo यानी कि पेज के भीतर रहकर सर्च इंजन के लिए optimzation करना होता है। On Page seo में page के content, Keyword, Title, Heading, Meta tag description, Keyword Placement, Short Pragraph, permalink इन सारे चीज़ों पर ध्यान दिया जाता है।

ऑन पेज एसइओ के परिभाषा( Definition of On Page Seo hindi)

किसी भी सर्च इंजन में SERP के टॉप रिजल्ट में पोस्ट या पेज को रैंक कराने के लिए पेज के भीतर रहकर जिन technique के प्रोयोग से search इंजन के लिए optimization किया जाता है उन्हें ही on page seo कहते है।

On Page Seo क्यों जरूरी है(Important of On Page seo)

Search Engine पहले से ज्यादा advance हो चुके है। अभी के टाइम पर सर्च इंजन पर रैंक करने के लिए पोस्ट के क्वालिटी को समझना जरूरी होते है।

आज जितने भी searches होते है सर्च इंजन सर्च के intent को समझ पाते है ओर उसके according ही बेहतर रिजल्ट देने की कशिश करते है।

यानि कि आप मान सकते हो अभी के टाइम में  सर्च इंजन को पोस्ट के quality और इंटेंट को समझना होते है जीसके लिए on पेज एसईओ जरूरी होते है।

  • ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने के लिए on page seo करना होता है।
  • ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए on page जरूरी है।
  • हर ब्लॉगर के सपने होते है ब्लॉग से earning करने की। लेकिन earning के लिए SERP के टॉप में रैंक करना होता है जिसके लिए on page seo बहुत जरूरी है।
  • ब्लॉग या वेबसाइट की authority boost करने के लिए भी जरूरी होते है।
  • High quality content लिखने में भी on page optionmization जरूरी होते है।
  • User को एक अच्छे interface देने के लिए भी ऑन पेज एसईओ जरूरी है।

On Page Seo Kaise Kare 

Seo में कीवर्ड रिसर्च के बहुत ज्यादा भूमिका रहते है। इसीलिए एक सही कीवर्ड ढूंढने के बाद ही इन technique के इस्तेमाल करना फायदेमंद रहता है।

#1.Post Title :

पोस्ट टाइटल के onpage seo में important रूल होते है। लोग सर्च रिजल्ट से टाइटल को देखकर ही उन पेजेज पर क्लिक करते है। यानी कि एक बढ़िया टाइटल CTR को बहुत ज्यादा increase करते है। 

  • पोस्ट टाइटल 60 वर्ड से कम होना चाहिए। 
  • Backet के use टाइटल को ओर भी eye catching बनाते है।
  • टाइटल पर नंबर के use करना भी फायदेमंद रहता है।
  • टाइटल पर positive or negative sentiment वर्ड होना चाहिए।
  • टाइटल पर at least one power word के इस्तेमाल करना चाहिए जैसे Best,Top Ultimate etc।

#2.Keyword Placement

 एक पेज को रैंक कराने के में कीवर्ड के भूमिका बहुत ज्यादा होते है।  इसीलिए आर्टिकल में सही से targeted कीवर्ड(जिन कीवर्ड के ऊपर पोस्ट को रैंक करना चाहते हो)  के प्लेस करना भी रैंकिंग में बहुत ज्यादा boost दिलाता है। 

  • Targeted keyword को post title के शुरू में रखें।
  • Url structure में कीवर्ड को insert करें।
  • आर्टिकल के first 100 वर्ड में कीवर्ड को add करें।
  • Heading tag पर कीवर्ड को add करें।
  • Content के बीच मे कीवर्ड को insert करे।
  • Meta description में कीवर्ड को इन्सर्ट करे।
  • आर्टिकल conclusion में कीवर्ड को ऐड करें।

#3.Meta Description 

जब कोई यूजर किसी query को सर्च करते है उन्हें सर्च रिजल्ट में टाइटल के नीचे meta description भी देखने को मिलते है।

आप meta description जितना अच्छा लिखोगी उतना ही ज्यादा क्लिक मिलने के संबभना रहेगा। 

ध्यान रखें meta description 1 बार जरूर targeted कीवर्ड को insert करें।

#4.Heading Tag 

Content में heading tag(H1,H2,H3) जरूर ऐड करें।

हैडिंग टैग सर्च इंजन के साथ साथ user readibility को भी increase करता है।

#5.Permalink

Permalink यानी पोस्ट के url( url क्या है) को कहते है। Permalink पर focus keyword आना रैंकिंग में boost दिलाता है।

Permalink बनाते वक्त यह ध्यान रखे

  • Permalink short रखें।
  • Permalink इस तरह के रखे ताकि focus कीवर्ड add हो -https://hindimeseekhe.com/google-se-paise-kaise-kamaye/
  • Stop words-a,an, the,on, and इस तरह के words permalink में add न करें।

#6.Use LSI keywords on content

LSI keyword यानी main keyword के similar कीवर्ड जो गूगल recomand करते है। 

आप LSI कीवर्ड को कंटेंट के बीच बीच मे इन्सर्ट करने के try करे ताकि main keyword के अलावा भी ओर कोई सारे कीवर्ड पर पोस्ट को रैंक कराया जा सके।

#7.Image Optimization  

Image Optimization भी on page seo के हिस्सा होते है। आर्टिकल पर इमेज के use user और सर्च इंजन दोनो को ही प्रभावित करते है।

पोस्ट को सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए इमेज का भी seo करना जरूरी होते है। इमेज seo ऐसे किया जाता है –

  • Use Image title like this : on-page-seo-kya he.jpg 
  • Image alt text पर main keywod को add करें। 
  • Image के साइज जितना कम रख पाते हो उतना ही अच्छा है। 
  • Always use featured image on post. Featured image उन इमेज को कहते है जो thumnail की तरह दिखाई देता है।

#8.Internal Link : 

Internal Link उन लिंक को कहते है जो आपकी वेबसाइट की ओर पेजेज को लिंक करते है। जैसे कि आप मान लो हमने seo के ऊपर एक पोस्ट लिखी है ओर उस पोस्ट पर on page seo kya hai इस पोस्ट को anchor text से लिंक कर दी हो।

Internal link भी on page seo में ही आते है। आप ज्यादा से ज्यादा इंटरनल लिंक add करें। लेकिन ध्यान रहें कि इंटरनल लिंक अगर रिलेटेड पोस्ट से मिलेगा तो ही वह बेनिफिट साबित होते है।

#9.External Link :

Externnal link उन लिंक को कहते है जो दूसरे वेबसाइट के पेजेज को connect करते है। maan लो आपने off page seo के ऊपर एक आर्टिकल लिखें हो और उस article मेरे इस आर्टिकल को लिंक दिए हो। इसे एक्सटर्नल लिंक कहते है। 

आप पोस्ट के रिलेटेड एक्सटर्नल लिंक ऐड करें। लेकिन ध्यान रखें जिस वेबसाइट को लिंक दे रहे हो उसमें ज्यादा spam score न हो।

#10.Keyword Stuffing 

कीवर्ड stuffing के मतलब है बार बार कीवर्ड को इन्सर्ट करना। मान लो आपने 100 वर्ड के आर्टिकल लिखे हो और उसमें 20 से 30 कीवर्ड लगया हो तो उसे कीवर्ड stuffing कहाँ जाएगा।  

ध्यान रखें कभी भी कीवर्ड stuffing न करें जिसके कारण manualy penality भी मिल सकते है। कीवर्ड डेंसिटी 5% तक रखें।

On page seo में content के भूमिका

Content is a king। आप जितने भी seo कर लो अगर कंटेंट अच्छा नहीँ रहेगा तो कभी रैंक नही करवा पाओगें। 

हमेशा आर्टिकल को यूजर के लिए लिखें और आर्टिकल को खुद पूरा रीड करें। कहाँ जाता है कि अच्छे प्रोडक्ट को promotion के बिना भी लोगो तक पहुँच जाता है। 

अगर आपके आर्टिकल high quality के होंगे तो बिना seo करें भी उसे रैंक करा पाओगें।

Conclusion: On  Page Seo kya hai

ऊपर आपको on page seo kya hai और on page seo के कुछ technique बारे में बताया हूँ। 

अगर आप इन technique को पोस्ट में impelament करेंगे तो पोस्ट को जरूर से रैंक करा पाओगें। 

Guys, एक पोस्ट लिखने में बहुत ज्यादा टाइम लगता है। अगर पोस्ट को यहाँ यक पड़े हो पोस्ट की जरूर सोशल मीडिया पर शेयर करें। धन्यवाद।।

3 thoughts on “On Page Seo Kya Hai?[10 technique for 2021]”

  1. Pingback: [Rank #1] SEO क्या हैं (Seo Guide 2021)

  2. Pingback: Blog कैसे Start करे 2021(A to Z Guide For Beginner)

  3. Pingback: Start Blogging - Ravitech.org

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *