वेब सर्वर क्या है और कितने प्रकार के होते है | What is Web server in Hindi

सर्वर क्या होता हैं? कंप्यूटर के इस युग मे आप आय दिन कोई सारे वेबसाइट को विजिट करते रहते है औऱ जहाँ से अपने अनुसार डेटा को देखते रहते है। लेकिन क्या अपने कभी यह सोचा यह डेटा आखिर कहाँ स्टोर रहते है। 

अगर हम अपने कंप्यूटर के बात करें तो उसके सारे डेटा हरडिक्स में सेव रहते है, जहाँ से हम उन डेटा को देख या एक्सेस कर सकते है। 

कुछ इसी प्रकार हम इंटरनेट पर जब कुछ चीज़ सर्च करते है तो वो भी कहीं न कही सेव रहते है जहाँ से हम डेटा को एक्सेस कर पाते हैं।

और यहाँ पर सर्वर का कांसेप्ट आ जाता है। सर्वर एक प्रकार के कंप्यूटर ही होते है, जहाँ हार्डिक्स, रैम होते है जो इंटरनेट यूजर के लिए बनाए जाते है। 

आप जब गूगल या यूट्यूब पर request भेजते हो तो वह request सर्वर पर ही जाते है और उसके रिजल्ट सर्वर आपको दिखाते है। 

यह तो रहे सर्वर के कुछ बेसिक जानकारी। आगे हमने server क्या है, सर्वर कितने प्रकार के होते है और सर्वर कैसे काम करते है इसे बहुत आसान भाषा मे समझने की कशिश की है। पोस्ट को जरूर लास्ट तक ध्यान से पढ़ते रहे।

वेब सर्वर क्या है? 

what is web server hindi

सर्वर एक तरह के कंप्यूटर प्रोग्राम या सॉफ्टवेयर होते  है जो Clint के request के एक्सेप्ट करते है और उसके बाद response करते है। 

सर्वर एक तरह के ऐसे डिवाइस समझ सकते हो जो नेटवर्किंग पर चलते है और अन्य डिवाइस को डेटा प्रदान करते हैं। 

एक सर्वर एक साथ कोई सारे डिवाइसको डेटा डिलीवर कर सकते है। 

इंटरनेट पर उपलब्ध हर एक वेबसाइट सर्वर से कनेक्ट होते है जो वेबसाइट के डेटा को स्टोर, प्रोसेस और डिलीवर के काम करते है। आप यूजर कुछ query ब्राउज़िंग करते है तो ब्राउज़र http प्रोटोकॉल द्वारा सर्वर को request करते है और सर्वर उसके response में वेब पेजेज को सर्वे कर देते है।

सर्वर आप ऐसे कंप्यूटर को समझ सकते जो 24×7 इंटरनेट से कनेक्ट रहते है, विशेष हार्ड ड्राइव रहते है जो एक साथ कोई सारे कंप्यूटर पर डेटा को भेज सकते है, रिक्वेस्ट को हैंडल कर सकते है। 

आपके लोकल कंप्यूटर को भी आप किसी विशेष सॉफ्टवेयर को use करके server बना सकते है। हालाँकि इसे local सर्वर कहाँ जाएगा जो सिर्फ आपके कंप्यूटर से ऑक्सीस किया जा सकता है।

सर्वर काम कैसे करते है?

सर्वर का मुख्य काम ही डेटा को स्टोर करना, प्रोसेसिंग करना और डिलीवर करना होता है। 

सर्वर पर पहले डेटा को स्टोर किया जाता है और सर्वर request के अनुसार उस डेटा को डिलीवर कर देता है। 

उदाहरण के लिए आप समझ सकते है आपने ब्राउज़र पर सर्च किया “what is server in hindi ” मतलब आपने ब्राउज़र को रिक्वेस्ट किया और ब्राउज़र http के मदत से गूगल के सर्वर को request भेजेगा और सर्वर response में आपको कुछ रिजल्ट दिखाएंगे। अब अपने हमारे वेबसाइट के लिंक को क्लिक किया, तो ब्राउज़रहमारे वेबसाइट के सर्वर को request भेजेगा और परिणामस्वरूप यह वेब पेज आपको देखने को मिला है।

वेब सर्वर के प्रकार

वैसे तो सर्वर कोई तरह के हो सकता है, लेकिन यहाँ हमने 4 लोकप्रिय सर्वर के बारे में बताया हूँ ।

  1. Apache Web Server: apache web server दुनिया में सबसे ज्यदा यूज़ किये जानेवाले सर्वर में से एक है, जिसे Apache Software Foundation द्वारा developed किया गया है। यह सर्वर लगभग दुनिया के 60% ऑपरेटिंग सिस्टम को सपोर्ट करते है जैसेUNIX, Windows, FreeBSD, Mac OS X. Apache Web Server एक open Source Web Server है। जिसका मतलब होते है इसे आप अपने अनुसार ऑप्टिमाइज़ या परिवर्तन कर सकते है।
  2. Internet Information Services Server: Internet Information Services Server Apache सर्वर की तरह ही काम करते है और इसे माइक्रोसॉफ्ट द्वार बनाया गया है। इसमें apache सर्वर की तरह कोई तरह के फीचर मिलते है, लेकिन यह open source नहीं है। इसे आप अपने अनुसार परिवर्तन नहीं कर सकते। Internet Information Services Server कुछ खास तरह के ही ऑपरेटिंग सिस्टम को सपोर्ट करते है।
  3. Nginx Web Server: Ngnix Web Server भी apache की तरह ही काम करते है, इसमें IMAP/POP3 Proxy Server भी शामिल होते है। यह रिक्वेस्ट को सर्वे करने के लिए thread का यूज़ नहीं करते वल्कि एक अधिक Scalable Event-Driven Architecture है जो Load के तहत Memory की छोटी और अनुमानित मात्रा का Use करता है। आजके टाइम पर यह सर्वर काफी पोपुलर होते जा रहे है और ज्यादात्र वेब hosting कंपनी इस सर्वर के उपयोग ही पसंद करते है।
  4. Light Speed Web Server: नाम से ही अनुमान लगा सकते हो कि यह सर्वर काफी फ़ास्ट Commercial वेब सर्वर है। यह दुनिया के चौथे सबसे प्रचलित सर्वर है , Light Speed Web Server एक High Performance और Apache Drop-In Replacement Server है।

वेब सर्वर के लाभ

  • वेब सर्वर वेब विजिटर को सुरक्षा प्रदान करते है वेब सर्वर http के जगह https standred पोर्ट यूज़ को करते है और यूजर के सेक्रुरिटी को ध्यान देते है, अथॉरिटी डेटा सर्वे करते है।
  • वेब सर्वर विजिटर को जानकारी दुन्दने में सुबिधा देते है यह इन्टरनेट के माध्यम से हर एक डिवाइस पर डेटा को सर्वे कर सकते ही।
  • वेब सर्वर पर बड़ी साइज़ के फाइल को भी अपलोड किया जा सकता है और उसे यूजर डाउनलोड या सेव कर पाते है।
  • वेब सर्वर के प्रोसेसिंग काफी फ़ास्ट होते है जिससे डेटा को सेकंडो में ही सर्वे कर सकते है।
  • वेब सर्वर के पास वर्ल्ड वाइड डेटा सर्वे करने के क्षमता रहते है जिससे वर्ल्ड के कोई कोने से आप डेटा को access कर सकते है।

होस्टिंग और वेब सर्वे में अन्तर

होस्टिंग और सर्वर में कुछ ज्यादा अंतर नहीं होते है होस्टिंग को सर्वर कहना भी गलत नहीं होते है।

सर्वर एक एइसा सॉफ्टवेर या डिवाइस होते है जिसमे कोई सारे हार्ड ड्राइव इंस्टाल रहते है और एक नार्मल यूजर इसे buy नहीं कर सकते है तो वे इस सर्वर के हार्डड्राइव को buy करते है जिसे hosting कहा जाता है।

इन्टरनेट पर उपलब्द वेबसाइट hosting पर ही अपलोड रहते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *